शुक्रवार, 4 सितंबर 2015

A.B.V.P. की गुण्डागर्दी से परेशान और हलकान हुये मुरैना शहर के अफसर, मुख्यमंत्री के नाम पर करोड़ों रूपये की चंदा वसूली करने निकले ए.बी.वी.पी. के गुण्डे

A.B.V.P. की गुण्डागर्दी से परेशान और हलकान हुये मुरैना शहर के अफसर, मुख्यमंत्री के नाम पर करोड़ों रूपये की चंदा वसूली करने निकले ए.बी.वी.पी. के गुण्डे
मुरैना के M.G.M. कॉलेज के नाम पर चलाई गई खबर सरासर फर्जी , मामला चंदा वसूली से जुड़ा , प्रशासन मौके पर था मौजूद , रूटीन जॉंच में पकड़े गये दो नकलची छात्र , और ए.बी.वी.पी. ने फैलाया गुंडागर्दी का सैलाब , कॉलेज प्रशासन को बदनाम करने के लिये फैलाया सामूहिक नकल का षडयंत्र
- नरेन्द्र सिंह तोमर ''आनन्द''
मुरैना 3 सितम्बर 15 , आज कुछ व्हाटस एप्प पोस्टों और कुछ जगह चलाई गई मुरैना एम.जी.एम. कॉलेज में ए.बी.वी.पी. द्वारा सामूहिक नकल को लेकर हंगामा शीर्षक से खबर सरासर निराधार , असत्य व फर्जी निकली ।
ग्वालियर टाइम्स द्वारा महाविद्यालय प्रशासन स्तर पर एवं जिला प्रशासन स्तर पर इस संबंध में तहकीकात व तफ्तीश की गई, और सारा मामला ए.बी.वी.पी. द्वारा म.प्र. के मुख्यमंत्री के नाम पर शहर भर के अफसरों एवं स्कूलों कॉलेजों सहित अन्य प्रतिष्ठानों / संस्थानों को डरा धमका कर फर्जी व अवैध चन्दा वसूली का निकला ।
प्रकरण की पुष्ट‍ि स्वयं हमारे द्वारा की गई, प्राप्त जानकारी व विश्वसनीय स्त्रोतों से खबर की पुष्ट‍ि हुई , 6 तारीख को म.प्र. के मुख्यमंत्री के मुरैना आगमन के कार्यक्रम को लेकर , ए.बी.वी.पी. के गुण्डे पिछले कुछ दिनों से शहर में गुण्डागर्दी और दंगा फसाद फैला कर शहर के अफसरों और प्रतिष्ठानों से जबरन चन्दा वसूली और रंगबाजी कर रहे हैं , मामले में ज्ञात हुआ है कि करोड़ों रूपये का चन्दा अब तक ए.बी.वी.पी. के गुण्डे कर रहे हैं ।
मामला हाई लेवल तक पहुँचा -
एम.जी.एम. जैसे प्रतिष्ठ‍ित महाविद्यालय का नाम आते ही मामला एकदम से न केवल बहुत हाई लेवल तक पहुँच गया बल्क‍ि , भारत सरकार, म.प्र.शासन, जिला प्रशासन , पुलिस, आर.एस.एस. मुख्यालय व भारतीय जनता पार्टी के केन्द्रीय कार्यालय सहित स्वयं केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर भी हरकत में आ गये और पहले तो सुन कर ही सन्न रह गये , फिर ए.बी.वी.पी. के गुण्डों से सख्त नाराज हो गये । यदि ए.बी.वी.पी. के गुण्डे एम.जी.एम. कॉलेज तक न पहुँचते तो शायद दबा रहता मामला । मुख्यमंत्री के कार्यक्रम से अब ए.बी.वी.पी. के सारे गुण्डों को दूर रखा जायेगा , और कार्यक्रम में प्रवेश नहीं दिया जायेगा और उनकी चंदा वसूली की पाई पाई का मय चक्रवृद्धि ब्याज हिसाब किया जायेगा । ऐसी सख्त हिदायतें ऊपर से जारी कर दी गई हैं ।
किसने क्या कहा - 
कोई सामूहिक नकल वकल नहीं , सारा मामला चन्दे से जुड़ा है , जबरन चन्दा वसूली कर रहे थे , देने से मना किया तो यहॉं हंगामा करने लगे । गुडागर्दी फैलाने लगे सारी परीक्षा को डिस्टर्व करने लगे , पूरी परीक्षा कार्य में व्यवधान डाल कर परीक्षा को औेर परीक्षार्थीयों को शोरगुल कर डिस्टर्व करने लगे , लिा प्रशासन और पुलिस मौके पर मौजूद थे और परीक्षार्थीयों का नियमित रूटीन परीक्षा निरीक्षण कार्य एवं नकलचीयों की तलाश कर रहे थे , बमुश्क‍िल काफी मेहनत मशक्कत के बाद केवल दो नकलची ही हाथ में आये , कुल मिलाकार जिला प्रशासन द्वारा दो नकलची परीक्षार्थी पकड़े गये और मौके पर ही उनके केस बनाये गये , यह सब प्रक्रिया सब जगह हर परीक्षा केन्द्र पर जिला प्रशासन द्वारा स्वयं ही की जाती है , इससे ज्यादा न कहीं कोई नकल पकड़ी गई और न कोई ऐसा प्रकरण ही कहीं मिला ।
प्रोफेसर आर.एस.तोमर
- वरिष्ठतम प्रोफेसर एवं वरिष्ठतम प्राचार्य, एम.जी.एम. कॉलेज , मुरैना  ( जीवाजी विश्वविद्यालय , ग्लालियर)
नहीं कहीं कोई सामूहिक नकल वकल का केस नहीं मिला , केवल दो छात्र नकल कर रहे थे , वे भी काफी मेहनत मशक्कत और पूरे परीक्षा भवन के निरीक्षण के बाद पकड़ में आये , लिहाजा कोई सामूहिक नकल वकल वहॉं नहीं पाई गई, अत/ केवल दो छात्रों के मौके पर ही  नकल प्रकरण बनाये गये हैं ।
प्रदीप सिंह तोमर
एस.डी.एम. मुरैना
- नरेन्द्र सिंह तोमर ''आनन्द''
प्रधान संपादक , ग्वालियर टाईम्स समूह एवं चम्बल की आवाज समूह
अध्यक्ष , चंबल संभाग , गणेश शंकर विद्यार्थी प्रेस क्लब म.प्र.
अध्यक्ष प्रेस क्लब जिला मुरैना म.प्र.  ( व्हाटस एप्प नंबर 94257 38101 )